Competition exam ki taiyari kaise kare? प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने का सिर्फ 1 Best तरीका!!

यदि आप 12th पास है और competition exam ki taiyari kaise kare सर्च कर रहे हैं। लेकिन आपको अब तक सही जानकारी प्राप्त नहीं हुई है। आप यह निश्चय नहीं कर पा रहे हैं कि आखिर सही तरीके से competition exams की तैयारी कैसे करें और कैसे अपनी तैयारी को बेहतर करते हुए एक जॉब हासिल करें। तो दोस्तों यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होने वाली है। इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप की तलाश खत्म हो जाएगी और मुझे पूरा उम्मीद है कि आपकी तैयारी आज से आपके द्वारा शुरु हो जाएगी।

प्रिय अभ्यर्थियों या तो आप आज से ही कंपटीशन एग्जाम की तैयारी शुरू कर रहे हैं, या आप पहले से तैयारी कर रहे हैं और बहुत सारे कंपटीशन के एग्जाम्स भी दिए होंगे। लेकिन आपको सफलता हासिल नहीं हुई होगी तभी आप इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं। तो दोनों में से चाहे कोई भी कारण हो यदि आप इस पोस्ट में बताए गए तरीकों  को अपनाते हैं और उसी अनुसार अपने पढ़ाई को आगे बढ़ाते हैं तो यह मेरा वादा है कि आप सफलता जरूर हासिल करेंगे।

Competition exam ki taiyari kaise kare ?

दुनिया के किसी भी काम को सही ढंग से करने के लिए कुछ चीजों की आवश्यकता होती है। ठीक वैसे ही यदि आपको सही ढंग से पढ़ाई करके निश्चित सफलता हासिल करना है, तो आपको कुछ चीजों की जरूरत होगी। मैं उन सभी आवश्यक वस्तुओं के बारे में एक-एक करके नीचे बता रहा हूं। फिर आगे इसी पोस्ट में विस्तार से आपको बताऊंगा।

  • Target (आप कौन सा जॉब प्राप्त करना चाहते हैं उसको चिन्हित कीजिए)
  • Books ( जिस जॉब को आप सिलेक्ट किए हैं उसके सिलेबस के अनुसार सही किताब का चयन )
  • Group Study ( ग्रुप स्टडी बहुत जरूरी है लेकिन यह ध्यान रखें कि गलत संगत में ना पड़ जाए )
  • Coaching/Self Study ( अपनी क्षमता के अनुसार कोचिंग और सेल्फ स्टडी करने का निश्चय करें)
  • Notes ( खुद का नोट्स बनाना अति आवश्यक है इसको आदत में डालें )
  • Pen ( किसी एक ही कंपनी का एक ही डिजाइन का कलम ही इस्तेमाल करें )
  • Rooting ( आपकी पूरे दिन की दिनचर्या, यह सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है। इसीलिए इसको मैं सबसे पहले बता रहा हूं )

हमारी दिनचर्या कैसी होनी चाहिए

तो चलिए सबसे पहले जानते हैं, कि वह ऐसी क्या चीज है जिससे कारण हमारे साथी, जो हमारे साथ ही पढ़ाई किए थे, वे जल्दी जॉब लेकर चले गए और हम अभी तक एक भी exam क्लियर नहीं कर पाए। अभी तक पढ़ाई ही कर रहे हैं लेकिन कुछ परिणाम हासिल नहीं हो रहा है।

दोस्तों बुक लेकर 10 से 12 घंटे बैठे रहने से नॉलेज नहीं बढ़ जाती है । हां दुनिया देखती जरूर है कि आप इतनी देर पढ़ाई कर रहे हैं । लेकिन असल में स्मार्ट स्टडी का यह मतलब नहीं होता है कि आप कंटिन्यू 10 से 12 घंटे तक बैठकर किताबों को देखते रहे । दरअसल हम यही सबसे पहली और बड़ी गलती करते हैं। 10 से 12 घंटे पढ़ लेने से हम कोई भी exam को जल्दी ही क्लियर कर लेंगे । यही मानसिकता हमें सबसे पहले अपने दिमाग से निकालना होगा और अपने आप में एक संकल्प लेना होगा, कि जो भी पढें जब भी पढें एक रूटीन से पढेंगे एक रोजाना दिनचर्या से पढेंगे एक डिसिप्लिन के साथ पड़ेंगे ।

तो आइए अब बात करते हैं कि हमारी रोज़ाना की दिनचर्या क्या होगी और हमारा रूटीन क्या होगा ? तो सबसे पहले अपने आप में चाहे जैसे भी हो एक आदत आपको डालनी होगी। सुबह 4:00 बजे जगने की और रात में ज्यादा से ज्यादा 11:00 बजे तक सो जाने की । इस आदत से आपको एक टाइम का पता चल जाएगा कि आपके पास पूरे दिन में कितना टाइम है । अब कितना कितने देर का रूटीन फॉलो कर सकते हैं एक सही – सही और सटीक टाइम डिस्टेंस का आपको पता चल जाएगा ।

शुरुआत में आपको प्रॉब्लम होगा सुबह उठने में। लेकिन यदि आप दृढ़ संकल्पित रहेंगे तो धीरे-धीरे यह आदत लग जाएगी। कहा जाता है कि सुबह 4:00 बजे का जो मुहूर्त होता है वह ब्रह्म मुहूर्त होता है। अतः इस समय में आप जो भी काम करेंगे जो भी पढ़ाई करेंगे वह पूरे मन से होगा। इसलिए दोस्तों सुबह 4:00 बजे उठकर पढ़ने का आदत जरूर डालें।

Target (Compitition exam ki taiyari kaise kare)

जब आप सुबह उठकर पढ़ने की आदत डाल लेते हैं। तब उसके बाद सबसे महत्वपूर्ण स्टेप आता है, कि आपको कौन सा जॉब अच्छा लगता है, आपको कौन सी नौकरी चाहिए आप अपने आप को किस पेशे में देखना पसंद करते हैं।

जैसे ही आप ट्वेल्थ क्लास पास करते हैं। उसके बाद आपको अपना टारगेट तुरंत निश्चित करना चाहिए। क्योंकि compitition exams तो बहुत सारे हैं और उन सभी का सिलेबस , एक्जाम पैटर्न सब अलग-अलग है। तो यह आपको निश्चय करना अति आवश्यक है। यदि आप किसी भी एक एग्जाम को टारगेट बना करके पढ़ाई करेंगे। उसके सिलेबस और पैटर्न को ध्यान में रखकर तैयारी करेंगे तभी आप उस एग्जाम को पास कर पाएंगे। कैसे कुछ स्पेशल नौकरियां होती है जिनके लिए स्पेशल डिग्री की मांग होती है जैसे BBA, BCA, ITI इत्यादि। 

टारगेट को ध्यान में रखने का एक और मतलब यह भी है, की जिस जॉब को आप अपना टारगेट बनाते हैं। उसका एजुकेशन क्वालिफिकेशन क्या है, उसके लिए कौन सी डिग्री या डिप्लोमा आवश्यक है। 

Group Study कैसे करे?

दोस्तो आप वाकई में अगर कंपटीशन के एग्जाम के बारे में  (Competition exam ki taiyari kaise kare) गहराई तक जाना चाहत हैं। और अपनी तैयारी के बारे में वाकई में सीरियस है तो आपको ग्रुप स्टडी अवश्य करना चाहिए। क्योंकि आप अकेलेेेेेेेे में कितना भी पढ़ या रट्टा मार ले कुछ दिन बाद आप उसे भूल ही जाएंगे इसीलिए आपको अपने दो-चार कंपटीशन के मित्रों के साथ ग्रुप डिस्कशन या  ग्रुप स्टडी करना चाहिए। 

ग्रुप डिस्कशन करने के लिए आप अपने कंपटीशन के दो चार मित्रों के बीच कुछ टॉपिक को बांट लें। फिर दिए हुए टॉपिक को याद करने के बाद एक दूसरे से सवाल-जवाब करें। इससे आपको बहुत फायदा होगा और आपका पढ़ा हुआ विषय रिवाइज हो जाएगा। इसके साथ ही साथ आपके मित्रों द्वारा जो नए प्रश्न आपसे पूछा जाएगा वह भी आपको पता चलेगा और याद होगा। लेकिन एक बात का खास ध्यान रखें ग्रुप डिस्कशन उन्हीं लड़कों के साथ करें जो अपने करियर को लेकर चिंतित है जो वाकई में पढ़ने वाले लड़के हैं नहीं तो गलत संगति में आप अपने लक्ष्य को भूल जाएंगे।

compitition exam ki taiyari kise kare? coching से या self study से

यह एक बड़ी समस्या है और सभी लड़कों के साथ होती है। कि हम कंपटीशन एग्जाम की तैयारी कैसे करें इसके लिए कोचिंग ज्वाइन करें या सेल्फ स्टडी करें? तो यदि आप कंपटीशन एग्जाम की तैयारी की शुरुआत ही कर रहे हैं तो मेरा राय यही होगा कि आप कोचिंग जरूर ज्वाइन करें क्योंकि वह आपको चीजों को समझने में मदद मिलेगी। अन्य कंपटीशन के छात्रों के बारे में पता चलेगा कि वह कैसे तैयारी करते हैं और उनकी तैयारी कहां तक है। इससे आप अपनी तैयारी का आकलन कर सकते हैं।

Notes :- compitition ki taiyari kare

प्रिया अभ्यर्थियों, यदि आप कोचिंग ज्वाइन करते हैं और अच्छे से क्लास के नोट्स बनाते हैं। तो फिर आपको जिंदगी भर compitition ki taiyari kaise kare यह सर्च नहीं करना पड़ेगा। आप जब कोचिंग ज्वाइन करेंगे तो आप देखेंगे कि कितने ज्यादा-ज्यादा उम्र के लोग तैयारी कर रहे हैं। लेकिन उनको कभी सफलता नहीं मिली। इसका एक ही कारण है कि वह लोग सही से नोट्स नहीं बनाते हैं। जिस कारण वे श्रृंखलाबद्ध तरीकों से चीजों को याद नहीं रख पाते। तो यह अति महत्वपूर्ण है इसे आप अपने आदत में आज से ही शामिल कीजिए। ताकि आप पढ़े हुए चीजों को याद रख सके और कंपटीशन के एग्जाम में अच्छा स्कोर कर सकें।

Pen :- आपका हथियार

एक छात्र के लिए उसका कलम उसका हथियार होता है। यदि आप रोज अलग-अलग प्रकार के कलम का इस्तेमाल करते हैं। तो आपका आदत नहीं बन पाएगा यदि आप किसी एक कंपनी की कलम हमेशा इस्तेमाल करते हैं। तो उस पर आपका हाथ का कंट्रोल बढ़ जाता है जिससे कि आपका लिखने का प्रैक्टिस बढ़ जाता है एक बात और है। यदि आप एक ही प्रकार के कलम का इस्तेमाल करते हैं। तो कहीं ना कहीं वह आपके लिए लकी भी बन जाता है। और नौकरी पाने के लिए 99% मेहनत और 1% लक की भी आवश्यकता होती है।

इसके बाद आता है क्या पढ़े कैसे पढ़े सबसे पहले सारे सब्जेक्ट को जो आपको पढ़ना है उसको एक पंक्ति में लिख लीजिए फिर शुरुआत में सभी पर सिर्फ एक-एक घंटा देने का कोशिश कीजिए । सिर्फ एक – एक घंटा उसके बाद हर 10 दिन पर , उस 1 घंटे को 2 घंटे में बदलने का कोशिश कीजिए फिर 10 दिन बाद 2 घंटे से 3 घंटे और अंत में सारे सब्जेक्ट को तीन से 3:30 घंटे देने के बादइसको लगातार 1 साल तक बनाये रखिए । आपको महसूस होगा कि आपको सभी सब्जेक्ट आपको समझ में आने लगा है और सभी सभी विषय आपको आसान लगने लगा है ।

ssc की तैयारी किसे करें? special tips for ssc

तैयारी शुरू करने से पहले जितना छोटे लेवल से हो वहां से शुरू कीजिए ,आप ABC से शुरू कीजिए एकदम से छत पर चढ़ने का कोशिश मत कीजिए । एक कहावत है, अगर कूदकर ही छत पर चढ़ा जा सकता तो सीढ़ीओ का आविष्कार ना हुआ होता । अतः आप जीरो लेवल से शुरू करके धीमे-धीमे अपना कदम आगे बढ़ाते जाइए बढ़ाते जाइए इससे होगा यह कि आपको उबाउपन नहीं होगा आपको बोर फील नहीं होगा । अच्छा अब इसके बाद एक काम और करना है कि जैसे किसी भी कंपटीशन की अब तैयारी करते हैं तो आपको रोज एक उस कंपटीशन से संबंधित प्रैक्टिस सेट बनाना है । प्रैक्टिस सेट बनाने से आपको अपनी तैयारी का आकलन होगा कि आप अब तक कितने पानी में है ।

किस बुक से प्रैक्टिस सेट बनाये ?

अगर आप एसएससी की तैयारी कर रहे हैं जैसे एसएससी सीपीओ ,एसएससी जीडी ,एसएससी सीएचएसएल , तो आप स्पार्क प्रकाशन के प्रैक्टिस वर्क बुक लेकर उसे बना सकते हैं । इसके साथ-साथ आपको रोज़ हमारी इस वेबसाइट पर रोजाना की करंट अफेयर्स मिल जाएगी उसको भी पढ़ते रहिये । उससे आपको जनरल नॉलेज की तैयारी होती रहेगी ।

क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए ?

हम लोग सबसे बड़ी गलतियां करते हैं की ढेर सारा किताब खरीद लेते हैं जिसके कारणों से हमारा ध्यान भटक जाता है । और अगर ऑनलाइन तैयारी करते हैं तो कई सारे चैनल से पढ़ाई करना शुरू कर देते हैं जो कि सही है यह गलत है पता नहीं करते बस लगे रहते हैं और एक लगातार अध्ययन नही कर पाते । तो ऐसा नहीं करना है, एक सिलसिलेवार ढंग से चीजों को समझते हुए और सिलेबस को ध्यान में रखते हुए, नोट करते हुए पढ़ाई करना है । किताबों का भंडार नहीं लगाना है । अपना खुद का नोट्स बनाना है क्योंकि हमारा अपना बनाया हुआ नोट्स हमें जल्दी याद होता है और ज्यादा दिन तक याद रहता है ।

हमारे साथ तैयारी :-

हमारे साथी तैयारी कर सकते हैं हमारे टेलीग्राम ग्रुप दिया हुआ है उसमें ज्वाइन कर लीजिए फिर वहां मैं आपको मार्गदर्शन करूंगा कि कैसे तैयारी करनी है और समय समय पर फ्री टेस्ट सीरीज भी दिया करूँगा जिससे आपकी तयारी परफेक्ट वे में होगी ।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.